Breaking News
Pay Now
Home 25 100 बात की एक बात 25 मोहम्मद और गाँधी  हत्याओ की आंधी 100 बात की एक बात

मोहम्मद और गाँधी  हत्याओ की आंधी 100 बात की एक बात

Spread the love

 

        मोहम्मद और गाँधी हत्याओ की आंधी

सर्या बुलेटिन:- वर्तमान में जो भी घटित होता है वो इतिहास मे दर्ज होता है,चाहे वो राजनीतिक स्तर पर हो,सामाजिक,आर्धिक या धार्मिक आदि किसी भी स्तर पर हो।और उससे सम्बन्धित कुछ व्यक्तित्व भी निखर कर सामने आते है ये एक साधारण सी बात है और उनका नाम भी इतिहास में दर्ज होता है।हाल फिलहाल में जिसप्रकार बड़ी ऊर्जा के साथ यति नरसिंहानंद गिरी जी जिस मुहिम को लेकर आगे बढ़ है उससे ये तो तय हो गया की उनका नाम भी इतिहास याद रख्खेगा अब ये हमारी पीढियो के ऊपर निर्भर करता है कि वो इतिहास का आंकलन किस दृष्टिकोण से करते है।हाल ही में यति जी ने मोहम्मद और गाँधी को लेकर एक लाख हिन्दुओ के हस्ताक्षर से सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर करने की मुहिम शुरू की है,यति जी का कहना है कि अपने इतिहास का सही आँकलन किये बिना कोई कौम जीवित नही रह सकती,हमे अपने इतिहास का सही आंकलन करना चाहिए,ये बात बिल्कुल सही है।सौ बात की एक बात ये की महोम्मद व गाँधी हत्याओं की आंधी इस लिए है क्योंकि पिछले 1400 वर्षों में करोडों हिन्दू केवल महोम्मद व धार्मिक उन्माद के नाम पर जिबह कर दिए गये और आज तक पूरी दुनिया मे केवल इस बात पर कत्लेआम जारी है कि महोम्मद पर बात ही नही होगी इसकी सजा केवल मौत है दूसरी तरफ गाँधी ने जो हिन्दुओ से गद्दारी की उसकी सजा आज तक हिन्दू भोग रहा है केवल भारत पाकिस्तान बंटवारे के समय ही एक करोड़ से ज्यादा हिन्दुओ का कत्ल हुआ था जो सरकारी आंकड़ों में 20 लाख दर्ज है,आप सरकारी आंकड़ों से हिसाब लगा सकते है कि वास्तव में एक करोड़ से ज्यादा हिन्दुओ का कत्ल हुआ है और हमारी बहन बेटियों की जो दुर्दशा हुई उसको शब्दों में बयां नही किया जा सकता ये आंकड़े इस लिए भी ऑफिसियल है क्योंकि ये मुझे मेरे दादा गुरु स्व श्री बी एल शर्मा “प्रेम सिंह शेर” ने दिए है जिन्होंने ये दंगे अपनी आँखों के सामने झेले है और यदि किसी ने भी गाँधी के खिलाप मुँह खोला तो उसे जेल में डाल दिया जाता है।अब समय आगया है कि हम अपने इतिहास का सही आंकलन करे और आने वाली पीढ़ियों को सही दिशा निर्देशित करे जिससे हमारी आने वाली नस्ले सुरक्षित रहे।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*