Breaking News
Pay Now
Home 25 उत्तर प्रदेश 25 विधानसभा में अखिलेश बोले- ‘यूपी में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस नहीं, ईज ऑफ डूइंग क्राइम हो रहा’

विधानसभा में अखिलेश बोले- ‘यूपी में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस नहीं, ईज ऑफ डूइंग क्राइम हो रहा’

Spread the love

सूर्या बुलेटिन  : उत्तर प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र में सोमवार को नेता प्रतिपक्ष और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बजट पर चर्चा के दौरान अपना संबोधन दिया. इस दौरान उन्होंने एक बार फिर कहा कि ये बजट नहीं बटवारा है. उन्होंने सदन में कहा कि यूपी में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस नहीं, ईज ऑफ डूइंग क्राइम हो रहा है, जो NCRB के आंकड़े बताते हैं.




 

अखिलेश ने कहा, “ये बजट कहां जा रहा है, इसलिए मैने उसे बंटवारे का बजट कहा है.” उन्होंने कहा कि नेता सदन (सीएम योगी) अपना पूरा ध्यान अयोध्या एयरपोर्ट पर दें, जल्दी बनवाए जो अभी तक अधूरा है.

उन्होंने योगी सरकार से सवाल पूछा कि पिछले इन्वेस्टमेंट मीट के तहत 4.68 लाख करोड़ के एमओयू के बाद कहां इन्वेस्ट हुआ? क्या विभागों की इतना बजट खर्च करने की क्षमता है? बजट तो बहुत दिखाया है पर खर्च कैसे होगा?

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर, नर्स, वार्डबॉय की कमी है, करोड़ों की दवाई एक्सपायर, हाउसिंग और अर्बन डेवलपमेंट की हालत खराब है. स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में अगर सपा के काम को हटा दें तो भी सरकार ने क्या किया है, कोई नया काम नहीं हुआ.

अखिलेश ने कहा कि पिछली सरकार ने लैपटॉप दिए, इसलिए आप लैपटॉप नहीं दे सकते इसीलिए टैबलेट बांट रहे हैं.

“बिजली उत्पादन, ट्रांसमिशन मैं जो काम होना था वह कुछ नहीं हुआ, बजट में भी इसको लेकर कोई खास प्रावधान नहीं. एग्रीकल्चर सेक्टर में बाकी राज्यों की तुलना में कितना बजट दिया गया? इस सरकार ने डेयरी उद्योग के लिए क्या किया? पराग डेयरी का क्या हुआ, सपा सरकार में अमूल का प्लांट लगाने की जमीन दी थी, पराग के लिए जमीन दी थी पर ये सरकार बताए की दूध उत्पादन में क्या किया?”

अखिलेश यादव

उन्होंने कहा कि सरकार के गलत फैसलों को वजह से गायों के संख्या कम होती जा रही है, कन्नौज की पहचान इत्र से है न की गोबर से, लगता है आपको इत्र से लगाव नहीं है, हमें गोबर नहीं, परफ्यूमरी पार्क चाहिए.

अखिलेश ने योगी सरकार से कहा कि अगर आप पांच साल के लिए हैं तो बताए की किसानों की आए दुगनी कब होगी? 3 लाख करोड़ से ज्यादा के निवेश के चरण कहां तक पहुंचे? डिफेंस कॉरिडोर की जमीन सपा सरकार में दी गई जिसका नाम बदल दिया गया लेकिन अभी तक कितने कॉरिडोर बने?

उन्होंने कहा, “नमामि गंगा योजना है क्या हुआ, यमुना की सफाई जाया हुआ, गोमती नदी का काम साबरमती के सामने नहीं टिकता लेकिन उसपर जांच चल रही है. कुशीनगर का हवाईअड्डा सपा सरकार ने बजट दिया, मेरठ, मुरादाबाद एयरस्ट्रिप के लिए भी हमने काम किया.”

About Amit Pandey

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*