Breaking News
Pay Now
Home 25 100 बात की एक बात 25 सौ बात की एक बात,हाजमा अच्छा है”यशोदा अस्पताल”का

सौ बात की एक बात,हाजमा अच्छा है”यशोदा अस्पताल”का

Spread the love

हाजमा अच्छा है”यशोदा अस्पताल” का

सुर्या बुलेटिन(गाजियाबाद) शहर के जाने माने अस्पतालों में से एक यशोदा अस्पताल का वास्तव में अच्छा हाजमा है,जो कि भिक्षा के रुपया भी हजम कर सकता है।जिसका जीत जागता उदाहरण हाल फिलहाल भर्ती स्वामी नरेशानंद जी है।नरेशानंद जी डासना के देवी मंदिर में रुके हुए थे,जहाँ10 तारीख की सुबह 3:30बजे मंदिर पर हमला हुआ जिस में नरेशानंद जी को काफी चोट आई है।उनका यशोदा अस्पताल में उपचार चल रहा है,स्वामी जी पूर्ण रूप से भिक्षा पर आधारित है,उन्हें मंदिर के सेवादारों ने ही भर्ती कराया है।स्वामी जी का इलाज मंदिर के पैसे से ही हो रहा है,जो कि भिक्षा का ही होता है।अस्पताल के स्टॉप से बहुत निवेदन के बाद भी कोई रिहायत नहीं है बल्कि मेनिजमेंट ने साफ तौर पर कह दिया है कि इस मे आपकी कोई मदद नही होगी।दवाईया बाजार से 60%सस्ती मिल रही है लेकिन ये साफ कह दिया गया है कि दवाईया आपको हमारे यहाँ से ही खरीदनी होगी वो भी बिना छूट है।सौ बात की एक बात ये की अस्पताल के मालिक अरोड़ा साहब अपने आप को आरएसएस से जोड़के बताते है जो देश मे सबसे बड़ी सेवा संस्था है तथा इसी के फलस्वरूप आप एम पी व मेयर के चुनाव की दावेदारी ठोकते है।जो व्यक्ति साधुओं/भुक्षुकों को भी नही छोड़ सकता उसे यदि सत्ता सोप दी तो सोचो क्या होगा।वैसे भी इनका आप कुछ नही बिगाड़ सकते क्योकी आप के संस्थान ने अफसर शाही के लिए अतिरिक्त व्यवस्था करके रखी है,जिससे आमआदमी पर दबाव अच्छा बना सके।लेकिन सूबे के रखवाले भी एक साधु है,शायद इसमें योगी जी ही कुछ कर पाए।सेवादारों से प्राप्त जानकारी से पता चला है की योगी को पत्राचार व अन्य माध्यम से जानकारी पहुँचाई जाएगी क्योकि हमे योगी जी पर पूर्ण विश्वास है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*