Breaking News
Pay Now
Home 25 अपराध 25 कानपुर हिंसा में अब तक 35 गिरफ्तार, 1000 पर केस; उपद्रवियों की संपत्ति पर चलेगा बुलडोजर

कानपुर हिंसा में अब तक 35 गिरफ्तार, 1000 पर केस; उपद्रवियों की संपत्ति पर चलेगा बुलडोजर

Spread the love

सूर्या बुलेटिन : कानपुर के बेकनगंज में नई सड़क पर शुक्रवार को नमाज के बाद बाजार बंद कराने को लेकर जमकर बवाल हुआ। इस हिंसा के मामले में अबतक तीन प्राथमिकी दर्ज की गई है। एफआईआर में 40 लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है। जबकि 1000 अज्ञात लोगों को भी आरोपी बनाया गया। पुलिस ने नई सड़क में अघोषित कर्फ्यू लगाते हुए 35 उपद्रवियों को धर दबोचा।

 




अब तक 40 लोगों को नामजद करते हुए 1000 अज्ञात लोगों पर गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है। देर रात तक भारी संख्या में पुलिस-पीएसी, आरएएफ और आरआरएफ मार्च करता रहा। अब तक 40 उपद्रवियों को चिन्हित कर लिया गया है। इन आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। उनकी संपत्तियों को जब्त किया जाएगा और बुल्डोजर भी चलेगा।  उधर, परौंख से लौटते वक्त एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री ने उपद्रवियों पर कार्रवाई के निर्देश दिए।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अफसरों से दो-टूक कहा कि उपद्रवियों पर गैंगस्टर लगाकर उनकी संपत्ति को जब्त करें। अगर जरूरत पड़े तो संपत्तियों पर बुलडोजर भी चलवाएं। हर हाल में दोषियों पर कठोर से कठोर कार्रवाई करें, ताकि दोबारा किसी की बवाल करने की हिम्मत न पड़े।

परदे के पीछे कौन है, पता करें
बंदी और प्रदर्शन के बाद बवाल पर सीएम ने कहा कि जानबूझकर साजिश की गई है। कुछ शरारत जरूर है, इसलिए कठोर कार्रवाई करिए। वीडियो व सोशल मीडिया से बवालियों की पहचान करके उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज करें। उपद्रव में किसका हाथ है। परदे के पीछे से कौन बवाल करा रहा है। उनका उद्देश्य पता करके कड़ी से कड़ी कार्रवाई करें।

पोस्टर छापने वाले प्रिंटिंग प्रेस पर कार्रवाई करें
सीएम ने कहा कि इस तरह से पोस्टर व स्टीकर लगाकर बंदी और फिर उपद्रव करने वालों के मददगारों को भी खोज निकालें। पोस्टर छापने वाले प्रिंटिंग प्रेस और लगाने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई करें। सोशल मीडिया पर पोस्टर व स्टीकर का प्रचार-प्रसार करने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। सोशल मीडिया पर विशेष निगाह रखी जाए।

बता दें कि सड़क पर उतरी हजारों की भीड़ ने पथराव और बमबाजी की। एक दर्जन से ज्यादा गाड़ियां तोड़ डालीं। पुलिस ने घेराबंदी करते हुए उपद्रवियों पर लाठीचार्ज किया व आंसू गैस के गोले दागे। करीब दो घंटे तनाव रहा। बवाल में 35 लोग जख्मी हो गए।

बंदी का था आह्वान
भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा की टिप्पणी के विरोध में शुक्रवार को मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में बंदी का आह्वान था। सुबह से ही नई सड़क, मूलगंज, बेकनगंज, चमनगंज यतीमखाना सहित अधिकांश क्षेत्रों के बाजार बंद थे। दोपहर दो बजे जुमे की नमाज के बाद भारी भीड़ परेड व नवीन मार्केट बंद कराने के लिए उतर आई। दूसरे छोर पर यतीमखाना चौराहे पर भी लोग जुटने लगे। नारेबाजी के बीच भीड़ परेड की तरफ बढ़ी। चंद्रेश्वर हाते के सामने जवाबी पथराव व नारेबाजी शुरू हो गई। उपद्रवी हाते के अंदर घुसने लगे तो तनाव बढ़ गया। बख्शू पियादा मस्जिद, आसपास की इमारतों की छतों से पथराव व पेट्रोल बम चले। गोलियां भी तड़तड़ाईं। एसीपी अनवरगंज मो. अकमल ने फोर्स संग मोर्चा संभाला।

About Amit Pandey

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*