Breaking News
Pay Now
Home 25 कर्नाटक 25 कर्नाटक: मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर के खिलाफ 1000 मंदिर में पढ़ी गई हनुमान चालीसा, हिंदू नेता बोले- CM योगी जैसी हिम्मत दिखाओ

कर्नाटक: मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर के खिलाफ 1000 मंदिर में पढ़ी गई हनुमान चालीसा, हिंदू नेता बोले- CM योगी जैसी हिम्मत दिखाओ

Spread the love

श्री राम सेना के प्रमुख प्रमोद मुथालिक ने रविवार को ऐलान किया था कि 9 मई से राज्य के 1000 से अधिक मंदिरों में सुबह पाँच बजे से हनुमान चालीसा का बजाई जाएगी। यह ऐलान मस्जिदों में लाउडस्पीकरों के खिलाफ किया गया था। 

सूर्या बुलेटिन : श्रीराम सेना प्रमुख प्रमोद मुतालिक ने सोमवार (9 मई 2022) को कर्नाटक के मैसूर के मंदिरों में हनुमान चालीसा या भक्ति गीत बजाने के अभियान की शुरुआत की। सुबह 5 बजे से ही कर्नाटक के कई मंदिरों में हनुमान चालीसा या भक्ति गीत बजने लगे। हिंदू समर्थक संगठनों ने मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकर के खिलाफ कार्रवाई करने की माँग को लेकर अभियान चला रखा है। सोमवार को विजयनगर, विजयपुर, मैसूर, बेलगावी जिलों में अभियान शुरू किया गया है।

श्री राम सेना प्रमुख प्रमोद मुतालिक ने 9 मई की सुबह से कर्नाटक के एक हजार से ज्यादा मंदिरों में हनुमान चालीसा पाठ और भजन बजाने का आह्वान किया था। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार मस्जिदों में लाउडस्पीकर लगाने के खिलाफ कार्रवाई करने में नाकाम साबित हुई है। उन्होंने कहा कि आज सुबह 5 बजे से श्रीराम सेना के कार्यकर्ताओं ने राज्य भर के कई मंदिरों में हनुमान चलिसा या भक्ति गीत बजाना शुरू कर दिया है।

इससे पहले श्री राम सेना के प्रमुख प्रमोद मुथालिक ने रविवार को ऐलान किया था कि 9 मई से राज्य के 1000 से अधिक मंदिरों में सुबह पाँच बजे से हनुमान चालीसा का बजाई जाएगी। यह ऐलान मस्जिदों में लाउडस्पीकरों के खिलाफ किया गया था।

मुतालिक ने कहा कि पहले चरण में सुबह पाँच बजे मंदिरों में हनुमान चालीसा/सुप्रभात/भक्ति गीत बजाने का अभियान श्रीराम सेना चलाएगी और अगले चरण में अजान के अन्य समय पर यह कदम उठाया जाएगा। उन्होंने कहा  “हम यह सुबह कर रहे हैं, क्योंकि अदालत के फैसले के मुताबिक रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक माइक या स्पीकर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता, लेकिन वे सुबह पाँच बजे इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। इसलिए हम भी इस नियम का उल्लंघन करेंगे और सरकार को चेतावनी देंगे। हमारी लड़ाई मस्जिदों में अजान या नमाज अदा करने के खिलाफ नहीं है, बल्कि यह लाउडस्पीकर के इस्तेमाल के खिलाफ है।” बेलगावी में श्रीराम सेना की जिला इकाई ने आज सुबह से इस अभियान की शुरुआत की। पुलिस ने मस्जिदों समेत जिलों के कई संवेदनशील जगहों पर सुरक्षा कड़ी की है। पूरे राज्य में सुरक्षा बढ़ा दी गई है क्योंकि इस मुद्दे पर सांप्रदायिक झड़पें हो सकती हैं।

रविवार (8 मई 2022) को प्रमोद मुथालिक ने राज्य सरकार पर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि राज्य सरकार यहाँ मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकर के खिलाफ कार्रवाई करने में नाकाम रही है। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई और राज्य के गृह मंत्री अरगा ज्ञानेंद्र को वैसी ही हिम्मत दिखानी चाहिए, जैसी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वहाँ दिखाई है। योगी आदित्यनाथ ने वहाँ धार्मिक स्थलों से अनधिकृत लाउडस्पीकरों के खिलाफ कार्रवाई की है और अन्य को अनुमति योग्य सीमा तक आवाज सीमित रखने का निर्देश दिया है।

About Amit Pandey

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*